Wednesday, 2 July 2014

शिवराज सिंह की सशर्त संन्यास की घोषणा से आफरीदी गदगद

पत्र लिखकर कहा- मैं इस कठिन घाेषणा में आपके साथ हूं

 

जयजीत अकलेचा / Jayjeet Aklecha

वेलडन शिवराज !
भोपाल।
पाकिस्तान के महान आलराउंडर और क्रिकेट से कई बार संन्यास ले चुके शाहिद आफरीदी ने मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के उस जज्बे को सलाम किया है, जिसमें उन्होंने सशर्त संन्यास लेने की घोषणा की है।
मुख्यमंत्री को भेजे गए एक पत्र में आफरीदी ने लिखा है, मैंने किक्रेट से कई बार संन्यास लिया है। यह बहुत ही कठिन निर्णय होता है। लेकिन मुझे यह बताते हुए गर्व का अनुभव हो रहा है कि जितना कठिन निर्णय संन्यास लेने का होता है, उतना ही आसान संन्यास से वापसी का होता है। हालांकि आप हॉकी के ज्यादा प्रशंसक हैं, लेकिन फिर भी आपको ज्ञात होगा ही कि मैंने कितनी बार ऐसा कठिन निर्णय लिया और कितनी बार आसानी से अपने निर्णय को उलट दिया। आपने इस कठिन निर्णय को लेने की जो घोषणा की है, मैं उससे गदगद हूं और उम्मीद करता हूं कि अगर संन्यास की नौबत आई भी तो इंशा अल्ला, आप अपने इस संकल्प को तोड़ने में पीछे नहीं रहेंगे।
दिग्विजय सिंह का उल्लेख करते हुए उन्होंने लिखा, “आपके ही राज्य के एक पूर्व मुख्यमंत्री, शायद दिग्विजय सिंहजी ने भी मप्र की राजनीति से दस साल के लिए संन्यास की घोषणा की थी। इसके बाद भी वे सक्रिय राजनीति में बने रहे। आप उनसे भी प्रेरणा ले सकते हैं कि रिटायरमेंट का ऐलान करना कितना कठिन होता है, लेकिन बाद में ऊपरवाला सब ठीक कर देता है।”
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने यहां बुधवार को विधानसभा में कहा था कि अगर व्यापमं घाेटाले में वे दोषी पाए गए तो राजनीति और जीवन से संन्यास ले लेंगे।
मुख्यमंत्री कार्यालय ने ऐसा पत्र मिलने की पुष्टि तो की है, लेकिन यह कहकर उस पर कोई भी प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया कि पत्र में लिखी गई हिंदी में वर्तनियों की ढेर सारी अक्षम्य गलतियां हैं। यह पत्र शायद किसी हिंदीभाषी से फोन पर बोलकर लिखवाया गया प्रतीत होता है।

No comments:

Post a Comment